.

व्रत-पर्व सितम्बर 2016


1 सितंबर
स्नान-दान-श्राद्धादि की अमावस्या। लोहार्गल स्नान। श्री शक्ति पूजा। पोला (वृषभोत्सव) मौन व्रतारम्भ (जैन)।
 
भाद्रपद शुक्ल पक्षारम्भ
 
2 सितंबर
भाद्रपद शुक्ल पक्षारम्भ। श्रावण मासीय नक्त व्रत का अन्तिम दिन। श्री गुरू ग्रन्थ साहब प्रथम प्रकाश दिवस। शुक्र हस्त नक्षत्र में घं. 15/43 पर।
 
3 सितंबर
चन्द्रदर्शन मु. 30 साम्यर्घ। श्री गुरू अर्जुनदेव गुरयायी।
 
4 सितंबर
वाराह जयन्ती। मन्वादि। वाराहावतार। हरितालिका तीज व्रत (स्त्रियों को यह व्रत अवश्य करना चाहिये)। भाद्रपद सिंहार्क हस्त नक्षत्र में सामवेदियों का उपाकर्म। बृहदगौरी व्रत। गौरी तृतीया। श्री शंकर देव तिथि (आसाम)। श्री गुरू रामदास जोति जोत। हिजरी जिल्हेज 12 माह शुरू।
 
5 सितंबर
वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी व्रत। (आज चन्द्र दर्शन का निषेध है)। सिद्ध विनायक चतुर्थी। पत्थर चौथ। सम्वत्सरी चतुर्थी पक्ष (जैन)। ब्रह्मावर्त (बिठूर) में सिद्ध गणेश मंदिर में अभिषेक। मेला पाट 3 दिन (जम्मू-कश्मीर)। सर्वपल्ली डॉ. राधाकृष्णन जयन्ती। शिक्षक दिवस।
 
6 सितंबर
ऋण पंचमी। मध्याह्न में सप्तर्षि पूजा। आपस्तम्भ श्रावणी। हेमाद्रिका नाग पंचमी। सम्वत्सरी महापर्व (जैन)।
 
7 सितंबर
सूर्य षष्ठी व्रत। लोलार्क षष्ठी। पुत्रार्थियों को आज से 16 दिन तक काशी के लोलार्क कुण्ड में स्नान एवं पूजन अर्चन करना चाहिये। ललिता षष्ठी व्रत। चम्पा षष्ठी व्रत। माफी दिवस।
 
8 सितंबर
मुक्ताभरण सप्तमी व्रत। उमा महेश्वर पूजन। अपराजिता। संतान। दूबड़ी सातम। अनुराधा नक्षत्र में ज्येष्ठा गौरी का आवाहन घं. 28/26 के पूर्व। अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस।
 
9 सितंबर
श्री दुर्वाष्टमी व्रत। श्रीराधाष्टमी। दुर्गाष्टमी। आज से 16 दिनात्मक महालक्ष्मी व्रतारम्भ। महर्षि दधीचि जयन्ती। ज्येष्ठा नक्षत्र में ज्येष्ठा गौरी का पूजन व्रत (अष्टमी व ज्येष्ठा नक्षत्र का अतिप्रशस्त संयोग)। बुध (वक्री) सिंह राशि में घं. 17/51 पर।
 
10 सितंबर
श्री चन्द्र नवमी। उदासीन सम्प्रदाय महोत्सव । भागवत सप्ताहारम्भ। गौरी गणपति पूजन। काशी के लक्ष्मी कुण्ड में स्नान। गुरू अस्त पश्चिम में घं. 25/29 पर। मूल नक्षत्र में ज्येष्ठा गौरी का विसर्जन घं. 06/52 के बाद। 8 तिथि वृद्धि।
 
11 सितंबर
अदु:ख नवमी। दशावतार दशमी व्रत।
 
12 सितंबर
श्री रामदेव जी का मेला (नवल दुर्ग)। बुध (वक्री) पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र में घं. 26/04 पर।
 
13 सितंबर
जल झूलनी व्रत सबका। डोल ग्यारस (म.प्र.)। श्रवण द्वादशी व्रत। हरिवासर घं. 10/24 से। वामन द्वादशी व्रत। वामनावतार। वामन जयन्ती। सूर्य उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र में घं. 08/29 पर। सूर्य-चन्द्र, स्त्री-पुरुष योग, वाहन अश्व, नाड़ी नीरा, तदीश शुक्र (स्त्री) अत: श्रेष्ठ वर्षा हो। शुक्र चित्रा नक्षत्र में घं. 13/10 पर। ईदुज्जुहा (बकरीद)।
 
14 सितंबर
प्रदोष व्रत। दुग्ध व्रत। गो त्रिरात्र व्रत। हरिवासर घं. 07/03 तक। गुरू रामदास गुरयाई दिवस। 13 तिथि क्षय। हिन्दी दिवस।
 
15 सितंबर
अनन्त चतुर्दशी व्रत। कदली व्रत पूजन। रम्भा रोपण। विश्व ओजोन दिवस।
 
16 सितंबर
स्नान दान व्रतादि की पूर्वाभाद्रपद नक्षत्रयुता परमपुण्यदायिनी भाद्रपदी पूर्णिमा (परम पुण्यकाल घं. 07/38 से सूर्यास्त तक। इन्द्र श्राद्धारम्भ। प्रौष्ठपदी पूर्णिमा। इंदुला। उमा महेश्वर पूजन-व्रत। कु. संध्या पूजा। महालयारम्भ। पितृ पक्ष आरम्भ। पूर्णिमा श्राद्ध। सूर्य की कन्या संक्रान्ति घं. 18/37 पर। चन्द्र दर्शन मु. 30 साम्यर्घ। संक्रान्ति का सामान्य पुण्यकाल घं. 12/13 से सूर्यास्त तक। गृह-वस्त्र दान, गोदावरी में स्नान, संकल्पादि में प्रयोजनीय शरद ऋतु प्रारम्भ। श्री अष्टभुजी दुर्गा शक्तिपीठ (दुर्गा मन्दिर) में महामाया श्री विद्या राज राजेश्वरी त्रिपुर सुन्दरी एवं श्रीयंत्र का अभिषेक व अर्चन। भाद्रपद मासीय व्रत-यम-नियमादि समाप्त। भागवत सप्ताह समाप्त। आश्विन मासीय व्रत यम नियमादि प्रारम्भ। इष्टि।
 
आश्विन कृष्ण पक्ष
 
17 सितंबर
आश्विन मास कृष्ण पक्षारम्भ। प्रतिपदा श्राद्ध। आश्विन मास में दूध का त्याग करना चाहिये। विश्वकर्मा पूजा। अशून्य शयन द्वितीया व्रत। सौर (कन्या) आश्विन मासारम्भ। शनि ज्येष्ठा नक्षत्र में घं. 16/56 पर।
 
18 सितंबर
द्वितीया श्राद्ध। मंगल मूल नक्षत्र व धनु राशि में घं. 07/45 पर। शुक्र तुला राशि में घं. 24/07 पर।
 
19 सितंबर
संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी व्रत। चन्द्रोदय घं. 20/09 पर। तृतीया श्राद्ध। ब्रह्मावर्त (बिठूर) में सिद्ध गणेश मन्दिर में अभिषेक। बुध उदय पूर्व में घं. 11/28 पर।
 
20 सितंबर
चतुर्थी श्राद्ध (घं. 11/58 के पूर्व) पंचमी श्राद्ध (घं. 11/58 के बाद)। भरणी श्राद्ध।
 
21 सितंबर
षष्ठी श्राद्ध (घं. 09/02 के बाद)। चंद्र षष्ठी व्रत। गुरू अंगददेव गुरयाई दिवस। विश्व अल्जाइमर दिवस।
 
22 सितंबर
सप्तमी श्राद्ध (घं. 06/28 के बाद)। सूर्य सायन तुला राशि में घं. 19/50 पर। बुध मार्गी घं. 25/02 पर। 7 तिथि क्षय।
 
23 सितंबर
अष्टमी श्राद्ध। जीवित्पुत्रिका (जीउतिया) व्रत। श्री महालक्ष्मी व्रत। कालाष्टमी। अशोकाष्टम। राष्ट्रीय आश्विन मासारम्भ।
 
24 सितंबर
मातृ नवमी। नवमी श्राद्ध। सौभाग्यवती स्त्रियों का श्राद्ध आज ही करना चाहिये। जीवित्पुत्रिका व्रत का पारण। शुक्र स्वाती नक्षत्र में घं. 11/15 पर।
 
25 सितंबर
दशमी श्राद्ध। रवि दशमी पर्व। गुरू नानकदेव जी जोति जोत। सामाजिक न्याय दिवस।
 
26 सितंबर
इन्दिरा एकादशी व्रत सबका। एकादशी श्राद्ध। सूर्य हस्त नक्षत्र में घं. 24/03 पर। सूर्य-चन्द्र, स्त्री-स्त्री योग, वाहन मूषक, अमृता नाड़ी, तदीश चन्द्र (स्त्री), अत: अल्प वर्षा हो। प्लूटो मार्गी घं. 26/18 पर।
 
27 सितंबर
द्वादशी श्राद्ध। चक्रांकित महाभागवतों का, सन्यासी, यति, वैष्णवों का श्राद्ध आज ही करना चाहिये। गजच्छाया योग घं. 25/34 से। विश्व पर्यटन दिवस।
 
28 सितंबर
प्रदोष व्रत। युगादि। त्रयोदशी श्राद्ध। मघा श्राद्ध। गजच्छाया योग घं. 17/25 तक। गुरू हस्त नक्षत्र में घं. 16/44 पर।
 
29 सितंबर
चतुर्दशी श्राद्ध। शस्त्रादि से मृत लोगों का श्राद्ध आज ही करना चाहिये। मास शिवरात्रि व्रत।
 
30 सितंबर
स्नान-दान-श्राद्धादि की अमावस्या। अमावस्या श्राद्ध। पितृ विसर्जन। महालया समाप्त। सर्वपैत्री। अज्ञात तिथि वालों का श्राद्ध आज ही करना चाहिये। गजच्छाया योग घं. 21/27 से घं. 29/42 तक (बौधायन मतानुसार)। अन्वाधान।

Reviews

  • Total Score 0%
User rating: 90.00% ( 1
votes )



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *